viagra pas cher
  • A-
  • A
  • A+

विशेषताए

विशेष है राजीखुशी

राजीखुशी खुशहाल जीवन जीने की सहायिका है. मन बुद्धि और संस्कार जीवन के आधार हैं. इसलिए मन और बुध्दि की सक्रियता, सृजनात्मकता, सबलता, संस्कार, ऋतम्भरा प्रज्ञा, सतत प्रवाही ऊर्जा उसके केंद्र में है. योग, ध्यान, धारणा, स्व एवं परमात्म अनुभवन उसके उपाय हैं. गहरे और व्यापक अर्थों में अध्यात्म इसलिए उसका मार्ग है.

राजीखुशी न तो केवल मनोरंजन है और न ही सिर्फ जानकारी. वह प्रेरक, अनुप्रयोगी, उत्प्रेरक तथा मूल्यनिष्ठ है. वह सामना करने, समस्या से जूझने के लिए समाधान देती है और साहस तथा हौसला बढ़ाती है. वह उन गुणों को विकसित करने में सहायक है जो जीवन को सफल और अनुकरणीय बनाये.

मनोविज्ञान, दर्शन, जीवनानुभूति, सफल तथा प्रेरक आत्मचरित, उसके आधार हैं. अन्धविश्वास, जड़ता, रूढ़ियाँ, भविष्य-कथन, मन्त्र-तंत्र आदि उसके लिए आधार या सहारे नहीं हैं. वह प्रयोगधर्मी तथा अनुसन्धान मूलक है.

वह खुशहाल एवम सफल जीवन जीने की कला, संस्कृति तथा विज्ञान है. 

Add comment


Security code
Refresh