• A-
  • A
  • A+

एक्जाम टाइम में पढ़ाई में मन नहीं लग रहा तो ये करें

news3

  आपका जीवन स्तर कैसा रहेगा? इस प्रश्न का उत्तर आपकी पढ़ाई, आपकी एज्युकेशन कैसी है, पर निर्भर करता है। जो व्यक्ति विद्यार्थी जीवन में अच्छे अंक अर्जित करता है, नि:संदेह उसका जीवन स्तर काफी अच्छा रहता है।अच्छे अंक प्राप्त करने के लिए जरूरी है पढ़ाई में मन लगाना। जिन विद्यार्थियों का मन पढ़ाई में रहता है, वे हर परीक्षा में श्रेष्ठ परिणाम प्राप्त करते हैं। ठीक इसके विपरित जिस छात्र या छात्रा का मन इधर-उधर भटकता है, कुछ याद नहीं रहता, उसे परीक्षाओं में निराशा ही हाथ लगती है। यदि मन को एकाग्र और शांत कर लिया तब इस निराशा से बचा जा सकता है।

अष्टांग योग के अंग ध्यान से मन को एकाग्र और शांत किया जा सकता है। नियामित रूप से कुछ समय ध्यान करने से काफी अच्छे अनुभव प्राप्त होते हैं, दिन अच्छा बितता है और मन प्रसन्न रहता है। किसी भी शांत एवं स्वच्छ स्थान पर सुविधाजनक आसन में बैठ जाएं और प्राणायाम शुरू करें। मन को शांत करके ध्यान लगाएं। ध्यान लगाते वक्त हनुमान चालिसा का जप आपको और भी अधिक चमत्कारिक परिणाम प्रदान करेगा। विद्यार्थियों को अच्छे अंक प्राप्त करने के लिए ध्यान के साथ हनुमान चालिसा की पंक्ति- विद्यावान गुनी अति चातुर। राम काज करिबे को आतुर।। इस पंक्ति का जप करना चाहिए।

इस पंक्ति का अर्थ यह है कि रामदूत श्री हनुमान विद्यावान अर्थात् ज्ञान के भंडार हैं, गुणवान हैं और काफी चतुर भी। वे हर समय राम की सेवा के लिए तत्पर रहते हैं। हनुमानजी अपने भक्तों को भी श्रेष्ठ ज्ञान और गुण प्रदान करते हैं। इस भक्ति के प्रभाव से विद्यार्थी का मन पढ़ाई में लगेगा और कई अन्य स्वास्थ्य लाभ के साथ ही धर्म लाभ भी प्राप्त होगा।

Add comment


Security code
Refresh