viagra pas cher
  • A-
  • A
  • A+

सफल कैसे बनें

 

 

हम सब महत्वाकांक्षी (ambitious) और सफल (successful) होना चाहते है, हम सब में यह इच्छा कूट– कूट कर भरी पड़ी है लेकिन कुछ बाधाओं की वजह से हम कई बार इस प्रबल इच्छा को दफना देते है या कई बार नकारात्मक सोच की वजह से बिना कोशिश किये ही हार मान लेते है. ऐसे हम अपने ही हाथों अपने सपनों और सफलता का गला घोंट देते हैं

ज़िन्दगी में सफल कौन नहीं होना चाहता पर सब हार से डरते हैं । यदि आप ये पढ़ रहें हैंइसका मतलब है आप भी सफल और कामयाब होना चाहते हैं । 

एक विचार लें । उस विचार को अपनी जिंदगी बना लें । उसके बारे में सोचियेउसके सपने देखियेउस विचार को जिए । आपका मनआपकी मांसपेशियांआपके शरीर का हर एक अंगसभी उस विचार से भरपूर हो । और दूसरे सभी विचारों को छोड़ दे । यही सफलता का तरीका हैं । – स्वामी विवेकानन्द

सपने देखें - सपने देखना महत्वपूर्ण हैं क्योंकि यह प्रेरणा देते हैं । ज़िन्दगी में एक न एक बार आपने खुद को सफल होने के सपने देखते हुए पकड़ा ही होगा । ये असामान्य नहीं है और इसे अंग्रेजी में कहते है डे ड्रीमिंग  जो आपको अपनी मंजिल की तरफ ढकेलती है ।

 

 

हम सब महत्वाकांक्षी (ambitious) और सफल (successful) होना चाहते है, हम सब में यह इच्छा कूट– कूट कर भरी पड़ी है लेकिन कुछ बाधाओं की वजह से हम कई बार इस प्रबल इच्छा को दफना देते है या कई बार नकारात्मक सोच की वजह से बिना कोशिश किये ही हार मान लेते है. ऐसे हम अपने ही हाथों अपने सपनों और सफलता का गला घोंट देते हैं

ज़िन्दगी में सफल कौन नहीं होना चाहता पर सब हार से डरते हैं । यदि आप ये पढ़ रहें हैंइसका मतलब है आप भी सफल और कामयाब होना चाहते हैं । 

एक विचार लें । उस विचार को अपनी जिंदगी बना लें । उसके बारे में सोचियेउसके सपने देखियेउस विचार को जिए । आपका मनआपकी मांसपेशियांआपके शरीर का हर एक अंगसभी उस विचार से भरपूर हो । और दूसरे सभी विचारों को छोड़ दे । यही सफलता का तरीका हैं । – स्वामी विवेकानन्द

सपने देखें - सपने देखना महत्वपूर्ण हैं क्योंकि यह प्रेरणा देते हैं । ज़िन्दगी में एक न एक बार आपने खुद को सफल होने के सपने देखते हुए पकड़ा ही होगा । ये असामान्य नहीं है और इसे अंग्रेजी में कहते है डे ड्रीमिंग  जो आपको अपनी मंजिल की तरफ ढकेलती है ।

 

बचपन में जैसे माँ-बाप हमें पढ़ने को बोलते थे, डाँटते थे, वैसे ही सपने हमें काम करने को मजबूर करते है साथ ही ये सोच –सोच कर खुश कर देते है की काम खत्म होने पर क्या इनाम मिलेगा. सपने चाहे छोटे हो या बड़ेसपने देखना जरूरी है ।

पूर्व नियोजित करें  -प्लान्स बनाना और  लक्ष्य  तय करना बहुत जरूरी है । आप कितनी भी मेहनत कर लें, कोई लक्ष्य नहीं तो, सफलता नहीं । लक्ष्य तय करने से आप ध्यान केंद्रित, निर्धारित  और महत्त्वाकांक्षी  होते हैं जिसके फलस्वरूप आप सफलता की ओर बढ़ते हैं ।

याद रखें

  • सबकुछ एक डायरी में लिखें, आप क्या करना चाहते हैं, अधिक महत्वपूर्ण चीजें क्या हैं, जो चीजें कम महत्वपूर्ण हैं और जो समयसीमा में किए जाने हैं ।
    • एक विजन  बोर्ड बनाए, जहां आप अपने लक्ष्यों को एक चित्र के साथ सेट कर सकते हैं वैज्ञानिकों ने कहा है कि विज़ुअलाइज़ेशन आपको आपके लक्ष्यों को याद दिलाने में बहुत मदद करता है ।
    • अपने लक्ष्यों को प्राप्त करने के लिए विस्तृत निर्देशों का पता लगाएं और उसे फॉलो करें । यह आपको ट्रैक पर वापस लाने में मदद करेगा, जब भी आप खोए हुए महसूस करेंगे ।

आपके लिए सफलता क्या है

अपने लक्ष्यों को प्राप्त करने के लिए विस्तृत निर्देशों का पता लगाएं और उसे फॉलो करें । यह आपको ट्रैक पर वापस लाने में मदद करेगा, जब भी आप खोए हुए महसूस करेंगे । यदि आप  सकारात्मक नहीं हैं, तो आप ख़ुद पर भरोसा नहीं करते हैं । यदि आप ख़ुद पर भरोसा नहीं करते हैं, तो आप पर्याप्त महत्वाकांक्षी  नहीं हैं । सकारात्मकता  आपको अपने आप में विश्वास करने में मदद करती है और महत्वाकांक्षी और सफल होने के लिए यह आवश्यक है । अपने व्यक्तित्व या आंतरिक आत्मा को नीचे न होने दें । आपको यह समझना होगा कि सकारात्मकता प्रेरणा के बराबर है । वो केवल आप ही हैं जो खुद को प्रेरित कर सकते हैं

कुछ सूत्र

  • अपने आप को, आपकी सकारात्मक व्यक्तित्व लक्षणों को गले लगायें ।
  • नकारात्मक टिप्पणियों से प्रभावित न हों ।
  • अपनी सभी नकारात्मक भावनाओं को और नकारात्मक इंसानों को अपनी ज़िन्दगी से बाहर फेंकिये । यदि फेसबुक में किसी इंसान को देख आप खुद को छोटा महसूस करते हैं तो उन्हें देखना बंद करें और उन्हें देखें जिन्हें देखकर आपको प्रेरणा मिले ।

सफल लोगों के बीच रहें

जब आप सफल लोगों  से घिरे होते हैं, तो यह उत्साहजनक  है । आप लोगों से विचारों का आदान-प्रदान कर सकते हैं, और वे आपको अन्य लोगों के साथ भी कनेक्ट कर सकते हैं । प्रेरित और सफल लोगों के साथ अपने आस-पास, सफलता की संस्कृति और वातावरण बनाने का एक तरीका है ।

और यह भी

  • सफल लोगों को  देखे, observ  करें, चारों ओर देखें – कौन सफल है? वे क्या कर रहे हैं? उनके जीवन का दृष्टिकोण क्या है? उन्हें सलाह के लिए पूछें यदि संभव हो तो ।
  • जैसे मॉडल अक्सर अन्य मॉडलों की तस्वीरों की जांच करते हैं, ताकि अपने अगले फोटोशूट में कुछ नये पोस दे सकें ।

सही समय की प्रतीक्षा न करें

नया धंधा शुरू करने वाले हैं, पर चीजों के दाम बढ़ने का इंतज़ार कर रहें हैं? मत करें, जितनी जल्दी हो सके शुरू करें क्या पता दाम बढ़ने की जगह कम हो जाये । छोटे – छोटे कदम बढ़ाये, ऐसे समय का इंतज़ार न करें जब आपको एक बारी में एक बड़ा कदम लेने को मिलेगा क्यूंकि हो सकता है ऐसा समय न आये ।

कोई भी समय गलत या सही नहीं होता । ये बस हमारी मानसिकता है जो हमें ये सब सिखाती है । छोटे से छोटे अवसर का लाभ उठायें । सफलता कभी भी दरवाज़े पर दस्तक दे सकती है । तो सही समय का इंतज़ार न करें और इस समय को सही समय बना लें ।

याद रखें

  • अपने आरामी क्षेत्र  से बहार निकल के छोटे – मोटे रिस्क लें ।
  • “हर पल, हर लम्हा सही समय  है” तो उसका इंतज़ार करके समय बर्बाद न करें ।
  • किसी भी मौके को मत छोड़िये । अगर आपके सामने कोई अवसर आता है तो उसे अपनाये और अपने हित में बना लें ।

काम के प्रति जुनून रखें

 यदि आपने कभी गौर किया हो तो सफल इंसान हमेशा अपने काम के बारे में उत्साहित होता हैउनमें एक जुनून होता है । वही जुनून आपके अन्दर होना चाहिए अपने काम को लेकर ।

कुछ टिप्स

  • अपना करियर चुनने में अपना समय लें ।
  • काम के लिए उतनी जानकारी इकट्ठा करें जितनी आप कर सकते हैं ।
  • यदि आवश्यक हो, तो करियर के कोच या मनोवैज्ञानिक  से परामर्श करें ।
  • आपको जिन चीजों से प्यार है, उन्हीं से कुछ करियर बनाने की कोशिश करें ।

बुद्धिमानी से काम करें

 अब जब आपने अपना करियर चुन लिया तो आपके लिए ये जानना बहुत ज़रूरी है की सफल लोग बल से ज्यादा अक्ल से काम करते हैं .परिश्रम करें लेकिन उतना ही जितना ज़रूरी है । किसी भी कार्य को हासिल करने की क्षमता/ कौशल, सभी के पास नहीं होता है लेकिन अब सारे कौशल सीखने को तो ज़माने लग जायेंगे तो क्या करे?

बड़ा आसान सा उपाय है । उन कौशलों को सीखें जिन्हें सीखना बहुत ज़रूरी है । और जो थोड़े कम ज़रूरी है उन्हें आउटसोर्स करें। इससे आपका बहुत-सा समय और ऊर्जा बचेगा ।

इन दिनों, आउटसोर्सिंग एक विशाल विकल्प है । “स्मार्ट बनेंसक्सेसफुल हों” 

अपने काम का निरीक्षण करें

 अब जब आपने तय कर लिया है कि आपको कौन – कौन से कौशल सीखना हैं, तो अपने काम का निरीक्षण करें ।  इससे आप और आपके काम को निर्दोष बनाने में मदद मिलेगी । ये बहुत ज़रूरी हैं क्यूंकि आपको आपसे बेहतर कौन जानता है?खुद ही खुद की मदद करें और अपनी गलतियों को सामने लाकर उन्हें सुधारें ।

मूल्यांकन करें

  • खुद को ईमानदारी से रैंक करे ।
  • अपनी प्रगति में पैटर्न देखने के लिए किसी स्केच/ग्राफ़ की सहायता लें । जैसे किस महीने / सीजन में, आपने सबसे अधिक प्रदर्शन किया इसका मतलब है, अगली बार उसी महीने / सीजन में, आपको कुशलता से काम करना होगा ।

लेकिन लक्ष्य से ओझल न हो

अब एकदम आखिर में एक चेतावनी: जब हम छोटे लक्ष्य तय करते हैं और उन्हें हासिल कर लेते हैं, तो हम उस उपलब्धि से इतने मोहित हो जाते हैं की सामने आने वाले लक्ष्यों पर ध्यान नहीं देते । यह लापरवाही हमारी सफलता के लिए हानिकारक है । ऐसे में आप आने वाले लक्ष्य को भूलकर वर्तमान की उपलब्धि का जश्न मनाते हैं । जश्न मनाएं लेकिन लक्ष्य से ओझल न हो ।

कुछ जरूरी बातें

  • आपकी योजना पर केंद्रित रहें उन छोटी उपलब्धियों का जश्न मनाएं, लेकिन उन्हें मन में घर न करने दें ।
  • आपके मन को समझाना होगा कि सफलता का कोई अंत नहीं एक लक्ष्य के पीछे हमेशा एक और लक्ष्य होता है ।
  • इस मुद्दे को दूर करने के लिए एक लक्ष्य  हासिल करने के तुरंत बाद एक और लक्ष्य की योजना बनाएं ।

 तो ये थे कुछ तरीके जिनसे आप हो सकते हैं महत्वाकांक्षी और सफल ।( aasan hai blog)